दुनिया के अजीबोगरीब 5 इंसान, जिनकी जिन्दगी में हुए बड़े हादसों के बाद आये ये बदलाव!

0
84

दुनिया में सबसे ज्यादा देखी जाने वाली फिल्में सुपरहीरो पर आधारित होती है। जिसमे नायक के सुपरहीरो बनने से पहले वो किसी हादसों का शिकार होता है। हालाँकि, ये तथ्य मानने योग्य नहीं होती किन्तु ये एक कल्पना मात्र होते है। इन्ही की तरह असल जिंदगी में भी कई ऐसे इंसान मौजूद है जिनके साथ हुए हादसों से उनके जीवन में काफी परिवर्तन आया जो कि एक चौंका देने वाला सच है।

कई लोगों को लगता है कि हम मनुष्य के रूप में अपनी क्षमताओं को बहुत अधिक मात्रा में इस्तेमाल कर हैं लेकिन हम अपनी पूर्ण क्षमता का उपयोग नहीं कर रहे हैं, और शायद हम सही हैं …

आइये इन हादसों की एक झलक देखकर अपनी शंका दूर कर लीजिये

1. टोनी सिसिओरिया – लाइटनिंग पियानोवादक

दुनिया के अजीबोगरीब 5 इंसान, जिनकी जिन्दगी में हुए बड़े हादसों के बाद आये ये बदलाव!

टोनी सिसिओरिया एक आर्थोपेडिक सर्जन थे। एक दिन वह अपनी मां से फ़ोन पर बात कर रहा था और अचानक उस पर बिजली गिर गयी। वह तकनीकी रूप से कुछ देर तक मर चुका था, लेकिन वह बच गया। उपचार के बाद जब वह घर गया तो वह सुस्त लग रहा था और उसकी याददाश्त के साथ परेशानी हो रही थी। टोनी को संगीत की ऐसी ललक पैदा हुई कि आखिरकार उन्होंने एक पियानो खरीदा और उसे बजाना शुरू कर दिया, वह एक मास्टर पियानोवादक की तरह लग रहा था वह कहता है कि वह सिर्फ अपने सिर में सुन रही धुनों को बजाना शुरू करता था, और उससे बाहर जो धुनें आती थी, वो अदभूत थी!

2. फ्रेंको मैग्नानी – मेमरी फोटोग्राफर

60 के दशक से फ्रेंको मैग्नानी सेन फ्रांसिस्को में जाने के बाद बीमारियों से पीड़ित होने और कभी-कभी बेहोश हो जाते थे। जब वो ठीक होने लगे, तो फ्रेंको ने पेंटिंग करना शुरू कर दिया। इटली में वह एक कुक थे, अमेरिका में वह एक लकड़ी के काम करने वाला था। उन्होंने अपने जीवन में पहले कभी हाथ में पेंटब्रश नहीं उठाया था। हालांकि, अब वह अचानक शानदार तस्वीरें बनाने लगे।

आप उनकी कुछ पेंटिंग की तस्वीरें देख सकते है।

Also Read: भारत के इतिहास के 10 ऐसे झूठ जिसे अब तक हम सब लोग सच मानते आए है!

3. जेसन पैजट – फ्रैक्टल मैन

2002 में जेसन पैजट पर 2 लोगो ने हमला किया जिससे वो गंभीर रूप से घायल हो गए। यह बहुत ही गंभीर हादसों में से एक था। जब वे स्वस्थ हुए तब घर लौटने के बाद उन्हें हर जगह ज्यामितीय आकृतियां दिखाई देने लगी। आखिरकार जेसन ने आकृतियों को चित्रित करना शुरू किया एक बार जब उन्होंने अधिक लोगों को आकर्षित करने के लिए शुरू किया तो उन्होंने देखा कि उनके चित्र फ्रैक्टल हैं, गणितीय सेट जो एक दोहराए पैटर्न दिखाते हैं।

जेसन गणित में कभी अच्छा नहीं था, लेकिन अब वह उत्कृष्ट है! वह दुनिया में केवल एकमात्र व्यक्ति थे जो किसी भी उपकरण के बिना अपने हाथों से पूरी तरह से पैटर्न खींचने में सक्षम थे।

4. केन वाल्टर्स – डूडलर

1986 में, केन वाल्टर्स एक दुर्घटना का शिकार हुआ थे जिसमे उनकी पीठ टूट गयी थी। इसकी वजह से उन्हें एक साल तक बिस्तर पर रहना पड़ा बाद में उसे उसके ही घर से बाहर निकाल दिया गया था और उसे  2 बार दिल के दौरे का सामना करना पड़ा। यह भी बहुत ही गंभीर हादसों में से एक था।

2005 तक वह लगभग 20 वर्षों के लिए बेरोजगार था। बाद में 2005 में उन्हें एक स्ट्रोक मिला था, और अस्पताल में उन्होंने नर्स को एक पत्र लिखने की कोशिश की थी। हालांकि, उन्होंने खुद को लिखने की बजाय डूडलिंग पाई। यह उसके लिए अजीब और नया था।

केन एक विद्वान जरूर था, लेकिन दिव्यांग भी था और कला में कभी अच्छा नहीं रहा। डॉक्टरों ने कहा कि यह नई प्रतिभा संभवतः स्ट्रोक का नतीजा था। उन्हें बताया गया कि लक्षण अस्थायी रूप से होंगे। हालांकि, वे लगातार बने रहे उनकी कला अधिक प्रसिद्ध हो गई और अंततः उनके चित्रों ने इलेक्ट्रॉनिक कला का ध्यान आकर्षित किया।

5. टॉमी मैकहौग- ज़ेन कलाकार

टॉमी मैकहौग को यूके में सबसे बड़ा बेवकूफ माना जाता था। उसे एक ड्रग्स की  थी और उसे अनजान लोगों को पंच मरने की प्रवृत्ति थी। उसे एक दिन तीव्र सिरदर्द का सामना करना पड़ा और उसने अस्पताल जाने का फैसला किया डॉक्टरों ने उन्हें बताया कि उन्हें ब्रेन ऐन्यरिज़म है और उनके मस्तिष्क के दोनों ओर से खून बह रहा था । मौजूद डॉक्टर ने तुरंत सर्जरी करने को कहा और टॉमी मान गया ।

टॉमी कुछ समय बाद ठीक महसूस करने लगा लेकिन उसने महसूस किया की वह किसी लय- ताल  में बोल रहा था उसने अपने दिमाग में अजीब छवियां भी देखीं। वह कभी कलाकार नहीं थे, लेकिन इन छवियों को महसूस करते हुए उन्होंने अपने अन्दर एक कलाकार को जनम दिया ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here